HIma das full name age life Olympic medals family bf husband wiki record in Hindi-Lifestyle, age, coach latest 2020 2021 schcedule brand ambassdor

Biography of Hima das 

हिमा दास की जीवन -kon hai hima das उनकी बायोग्राफी -कौन है हिमा दास और  कहा से और कितने मैडल जीते इन्होने हिमा दास के बारे में सारी बातें आज सारी आपके सामने पढ़िए  और SHARE करे 

नाम :- हिमा दास 
निक नाम :- धींग एक्सप्रेस (Dhing Express )
जन्म :- 9 जनवरी 2000 
हिमा दास  की उम्र - 20 साल 2020  में 
जन्म स्थान :- धींग, असम 
पिता :- रंजीत दास 
माता :-जोनाली दास 
बहन:-रिँती  दास 
खेल :- ट्रैक और फील्ड (Sprinter Hima Das )
कोच :- निपोन  दास,गलिना बुख़ारिणा 
Nipon Das, Galina Bukharina
शिक्षा :- 10वी -हाई स्कूल- सेकेंडरी 
प्रोफेशन :-   स्प्रिंटर, इंफ्लुंसर, मॉडलिंग 
Insta Id :- @hima_mon_jai


HIma das



hima das




मेडल्स 



        >6th Position in 2018 Commonwealth games in Final with a clock of 51.31 sec in 400m

2018 --एशियाई गेम्स :-2 गोल्ड , एक सिल्वर 
गोल्ड :-- जकार्ता  वूमेंस  400 * 4 मीटर 
             जकार्ता मिक्स  400 * 4 मीटर 
सिल्वर :- 2018 जकार्ता 400 मीटर 


वर्ल्ड U -20  चैंपियनशिप :-1 
2018 टेम्पर 400 मीटर 

2019 
Poznam Athlete-पोज़नम एथलीट 
200 मीटर गोल्ड मेडल -23.65 सेकण्ड-2 July

Kutno Athlete--कुटनो एथलीट 
200 मीटर गोल्ड मेडल -23.97 सेकण्ड-7July

Tabor Athlete---तबोर एथलीट 
200 मीटर गोल्ड मेडल -23.25 सेकण्ड-17July


क्लाद्नो एथलीट मीट इन Czech Republic 
200 मीटर गोल्ड मेडल -23.13 सेकण्ड --13 July
4 00 मीटर गोल्ड मेडल -52.09 सेकण्ड --20 July

Hima das pics

अवार्ड्स 
अर्जुन अवार्ड :- 25 सितम्बर 2018  को माननीय श्री राष्ट्रपति जी से 

ब्रांड एम्बैस्डर - Sponsors list

Gatorade
Sports Ambassdor of Asam
unicef
Adidas
Sbi
Titlee
Edelweiss
Star cement 





Hima Das medals
HIMA DAS

हिमा दास -Hima das life struggle :
- हिमा दस एक छोटे से गाँव कांधोमिलारी  की लड़की है जो असम के करीब धींग जिले में आता है जिस वजह से इनका नाम धींग एक्सप्रेस रखा गया इनकी सफलता का शोर हर तरफ फ़ैल गया था जब इन्होने 2018 में एक साथ  गोल्ड मेडल जीते थे इनको भारत का भविष्य माना जा रहा है जिस तरह से ये दौड़ती है। 

हिमा दास  की शुरुवात :- हिमा एथलिट में आने से पहले फूटबाल खेला करती थी जो इनकी पसंदीदा खेल है। 
जिसमे इन्होने खूब मेहनत की पर कोई परिणाम नहीं मिल रहा था इसके बाद इनकी मेहनत  और होंसले को देखते हुए स्कूल के PTI टीचर ने इन्हे sprint running की सलाह दी जिसमे इन्होंने सफलता का मुकाम पा लिया  


जब ये फुटबाल खेलती थी तब ये फुटबॉल वाले महंगे जूते नहीं खरीद सकती थी क्योंकि इनकी फॅमिली गरीब थी तो इन्होने अपना खेल बदल दिया पर जनून  वही रहा। 

हिमा दास की फॅमिली :- इनके पिता एक किसान है जिनका नाम रोंजित दास और माता का नाम  ज़ोनली  दास 
और एक इनकी छोटी बहन भी है जिनका नाम रिंती  दास है 

आज हिमा दास :- आज हिमा दास सफलता की ऊंचाइयों को छूते हुए अपने को आने वाले ओलम्पिक की तैयारी में लगी हुई है। 

हिमा दास की कमाई आज लाखो रुपयों में है इन्होने कई sponsars के साथ deal sign की हुई है 
वो स्पोंसर्स है -Adidas, gatorade, unicef, titlee, star cement, SBI, Edelweiss
और वही ये असम की स्पोर्ट एम्बैस्डर भी है 




Post a Comment

Previous Post Next Post